पृथ्वीराज चौहान का हरियाणा से संबंध, साथ में और भी कुछ काम ज्ञात बातें

Greatest Kings and Warriors in Indian History, Lesser known facts about Indian kings and warriors
Share this post
  1. पृथ्वीराज चौहान ने अपने बचपन के दिनों में एक बाघ को अपने नंगे हाथों से मार डाला था।
  2. उन्होंने केवल तेरह साल की उम्र में गुजरात के राजा को हरा दिया और उनके नाना अंगम ने उनकी बहादुरी को देखकर उन्हें दिल्ली का राजा घोषित कर दिया था ।
  3. पृथ्वीराज के मित्र और कवि दरबार चंद बरदाई ने उनके जीवन का वर्णन करते हुए ‘पृथ्वीराज रासो’ कविता लिखी।
  4. ‘पृथ्वीराज विजया’ में उल्लेख है कि उन्होंने 6 भाषाओं का अध्ययन किया जबकि ‘पृथ्वीराज रासो’ का दावा है कि उन्होंने 14 भाषाओं को सीखा।
  5. पृथ्वीराज की पत्नी सोमयुक्त जयचंद्र गढ़वाल की पुत्री थी जो पृथ्वीराज के शत्रु थे। उसके पिता द्वारा उसके लिए स्वयंवर की व्यवस्था करने के बाद दोनों भाग गए।
  6. 1191 में तराइन (हरियाणा करनाल में स्थित तरावड़ी) की पहली लड़ाई में शहाबुद्दीन मुहम्मद गोरी को हराने के बाद, उन्होंने उसे बिना किसी नुकसान के छोड़ दिया और उसे माफ कर दिया।
  7. जब गोरी ने फिर से पृथ्वीराज पर आक्रमण किया और 1192 में द्वितीय तराइन (हरियाणा करनाल में स्थित तरावड़ी) की लड़ाई जीती, तो गोरी ने पृथ्वीराज को गिरफ्तार कर लिया और लाल गर्म लोहे की छड़ों से उन्हें अंधा भी कर दिया।
  8. बाद में पृथ्वीराज ने अपने मित्र चंद बरदाई की मदद से एक तीरंदाजी प्रतियोगिता में गोरी को मार डाला और वह गोरी के अंगरक्षक द्वारा वीरगति को प्राप्त हो गये।

आज यानि 19 मई को पृथ्वीराज चौहान जी की पुण्यतिथि है। टीम WeYuva धरती के वीर योद्धा को श्रद्धांजलि अर्पित करती है।

Leave a Reply